Birds Name in Hindi and English with Pictures ( list of birds ) पक्षियों के नाम हिन्दी में

हेलो और नमस्कार दोस्तों आज birds name की हमारी इस पोस्ट में आपका बहुत बहुत स्वागत है. birds name in hindi आज हम आपको यहां पर बताने वाले हैं. birds name in hindi and english के बारे में  और जानेंगे 20 पक्षियों कीअजीब बातें और आपको उन पक्षियों के बारे में सब कुछ बताया जाएगा यहां पर 20 birds name

Table of Contents

50 पक्षियों के नाम हिन्दी में , Birds Name in Hindi and English

1 मुर्गी के बारे में जानकारी :- 

मुर्गी एक प्रकार की पक्षी है | जिसका आकार अन्य पक्षियों की तुलना में छोटा होता है, मादा को मुर्गी और नर को मुर्गा कहा जाता है, मुर्गियां भले ही पक्षियों की श्रेणी में आती पर मुर्गी और पक्षियों की तरह आसमान में नहीं उड़ता आती है, मुर्गियां लाल काली सफेद और भूरे रंग की होती है मुर्गा और मुर्गी अपना भोजन जमीन पर चल कर ही ग्रहण करते हैं | और इन्हें भोजन में दाना फल फूल सब्जी खा नहीं पसंद है | और इनके अलावा यह छोटे-छोटे कीड़े भी खाना पसंद करती है और इनका जीवन 5 से 10 साल का होता है, मुर्गियां 24 प्रकार की आवाजें निकाल कर एक दूसरे से बातें कर शक्ति है और यह भी सुना गया है की मुर्गियां अपने पेट में पल रहे चुजे  से भी बात कर सकती हे

2 चमगादड़ के बारे में जानकारी:-

चमगादड़ आसमान में उड़ने वाला सतनधारी प्राणी है जो अपनी हजार से भी अधिक प्रजातियों के साथ स्तनधारिया के दूसरे सबसे बड़े कुल का निर्माण करते हैं और चमगादड़ हमेशाफूफा से निकलते समय हमेशा बाय हाथ मुड़ते हैं चमका दलों की एक छोटी सी बस्ती 1 साल हजार किलो कीड़े और छह करोड़ खटमल खा सकती है दुनिया में सबसे लंबे चमगादड़ आंखों की लंबाई होती है 5 से 6 फुट होते हैं

3 हंस के बारे में जानकारी:-

हंस अनैटिडाए कुल के जलपक्षियों के सिग्नस वंश के पक्षी होते हैं, वर्तमान में विश्व में इनकीी 6 प्रजातियां जीवित है, वैसे तो इनकी बहुत सारी प्रजातियां हैं पर और प्रजातियां विलुप्त हो चुकी है हंस का बतक और कलहंस वैज्ञानिक नाम है इनका लेकिन हंस इन दिनों अपने आकार में बड़े और लंबी गर्दन वाले हो चुके हैं इनकी काली गर्दन वाले भी नस्ली होती है जो दक्षिण अमेरिका में पाई जाती है

4 कोयल के बारे में जानकारी:-

कोयल या कोकिल ‘कुक्कू कुल’ का पक्षी है जिसका वैज्ञानिक नाम ‘यूडाइनेमिस स्कोलोपेकस’ है।नर कोयल के हल्का नीलापन और हल्का कालापन होता है और मादा तीतर की तरह डब्बादार चितकबरी होती है और उनकी आंखें लाल और उनके पंख पीछे की तरह लगे होते हैं और कोयल के प्रमुख निवास अफ्रीका एशिया यूरोप है भारत में भी पाई जाती है और कोयल की दुनिया में करीब 120 प्रजातियां हैं मादा कोयल घोंसला नहीं बनाती हैमादा कोयल घोंसला नहीं बनाती हैं यह अपना अंडा दूसरे पक्षियों के घोसले में देती है

5  तीतर के बारे में जानकारी;-

तीतर पक्षियों के कुछ जीववैज्ञानिक वंशों का समूह है जो फेसियेनिडाए कुल के अंतर्गत आते हैं तीतर दो उपकुलो में मिलते हैं तीतरों का मूल निवास यूरेशिया था पर अब यह पूरे विश्व भर में मिलते हैं तीतर की पूरी दुनिया में 40 से ज्यादा प्रजातियां हैं और भारत में इस पक्षी की काले और भूरे रंग की प्रजाति है और तीतर पक्षी की उड़ने में कम क्षमता होती हैं और इनको झुंड में रहना पसंद है

6 उल्लू के बारे में जानकारी:-

उल्लू एक ऐसा पक्षी है जिसे दिन में बहुत ही कम दिखाई देता है बल्कि रात में ज्यादा दिखाई देता है, और यह अपनी पूरी गर्दन घुमा सकता है और इनके कान बहुत ही तेज होते हैं उल्लू इंदु देवी लक्ष्य का वाहन है एक मादा उल्लू एक समय में 4,6 अंडे देतीे है और उल्लू के पंजे नुकीले और मुड़े हुए होते हैं उल्लू लोमड़ी और बाज का शिकार भी कर सकता है उल्लू को अमेरिका में पालने पर दंडनीय अपराध है

7 बाज के बारे में जानकारी:-

बाद एक शिकारी पक्षी है जो गुरुड़ से छोटा होता है और यह प्रजाति दुनिया भर में पाई जाती है, और अलग-अलग नामों से जानी जाती है बाज के पंख पतले और हल्के मुड़े होते हैं जो उनकी तेज गति से उड़ने में मदद करते हैं और वह अपनी तेज गति से जल्दी ही उड़ने की दिशा भी बदल लेते हैं

8 चील के बारे में जानकारी:-

चील श्येन कुल, फैमिली फैलकोनिडी, का बहुत परिचित पक्षी है, और इसकी कई प्रजातियां संसार और सभी देशों में फैली हुई है, इनमें काली चील ब्रह्मनी या खैरी चील ऑल बिल्ड चील ह्विसलिंग चील आदि मुख्य हैं चीन लगभग 2 फीट लंबी चिड़िया है चिल भारत में अत्यधिक संख्या में पाई जाती है और इनका प्रिय शिकार चूहा होता है चील आग और दुआ देखकर आक्रमण करता है

9 सरास बारे में जानकारी:-

सारस जिसे मूल संस्कृत में क्रौंच और वैज्ञानिक रूप से ग्रुइडाए भी कहा जाता है सारस जिसे मूल संस्कृत में क्रौंच और वैज्ञानिक रूप से ग्रुइडाए भी कहा जाता है सरस कुल 3 वंश मैं संगठित 15 ज्ञात जातियां हैं सारस अंटार्कटिकाऔर दक्षिणी अमेरिका को छोड़कर हर महाद्वीप में पाए जाते हैं यह आमतौर पर 2 से 5 तक के समूह में रहते है

10 बुलबुल के बारे में जानकारी:-

 बुलबुल शाखाशायी गण के पिकनोनॉटिडी कुल का पक्षी है और प्रसिद्ध गायक पक्षी “बुलबुल हजारदास्ताँ” से एकदम भिन्न है.और यह पक्षी कीड़े मकोड़े और फल को अपना भोजन मानते हैं यह पक्षी अपने मीठी बोली के लिए नहीं बल्कि लड़ने की आदत के कारण शौकीनों द्वारा पाले जाते हैं बुलबुल पक्षी की दुनिया घर में लगभग 1500 से भी ज्यादा प्रजातियां हैं भारत में पाई जाने वाली प्रजातियां जैसे कि गुलधूम बुलबुल बिहारी बुलबुल यह भारत में काफी प्रसिद्ध है

11 मैना के बारे में जानकारी:- 

माता पार्वती की माँ का नाम मैना है। तुलसीदास जी के रामचरित मानस मे मैना को हिमालय की पत्नी के रूप मे लिखा गया है, मैना पक्षी एक मूल रूप से दक्षिणी एशिया पक्षी हैं ज्यादातर भारत बांग्लादेश पाकिस्तान मैं पाई जाती थी हालांकि अब यह दुनिया के कई देशों में पाई जाती है.मैना की प्रजाति जंगल जालीदार जंगलों गांव और शहरों में पाई जाती है मादा मेना चार से पांच अंडे देती और तेराऔर 13 से 18 दिनों के बादबच्चे अंडे से बाहर आना शुरु होने लगते हैं

12 नीलकंठ पक्षी के बारे में जानकारी:-

नीलकंठ रॉयल वर्ग का पक्षी है यह मुख्यतः उष्णकटिबन्धीय क्षेत्रों में पाया जाता है जिसमें पश्चिमी एशिया से भारतीय उपमहाद्वीप तक शामिल हैं। यह पक्षी मुख्य रूप से प्रजनन के मौसम में नर की हवाई कलाबाजी के लिए जाना जाता है नीलकंठ पक्षी अधिकतर  दक्षिणी एशिया में पाया जाता है नीलकंठ पक्षी भारत इंडोनेशिया ईरान.इन देशों में भी पाया जाता है और इनकी सोच काले रंग की होती हैं और इनकी आवाज ओय जैसी होती है कठोर

13 बगुला पक्षी के बारे में जानकारी:-

बगुला पक्षी की लगभग पूरी दुनिया में 64 से भी ज्यादा प्रजातियां पाई जाती है, जबकि भारत की बात करें तो भारत में 21 प्रकार के बगुले पाए जाते हैं, जिसमें भारतीय उपमहाद्वीप में पाए जाने वाला भूरा बगुला सबसे ज्यादा प्रसिद्ध है यह पक्षी अपने पूरे जीवन में अधिकतर समय पानी में ही बताता है और बगुले पत्ती का वैज्ञानिक नाम है ( Ardeidea

14 रिया पक्षी के बारे में जानकारी:-

अंग्रेज़ी से अनुवाद किया गया कॉन्टेंट-रियास, जिसे नंदस या दक्षिण अमेरिकी शुतुरमुर्ग के रूप में भी जाना जाता है,रिया पक्षी प्रभावशाली आकार के लिए जाना जाता है और यह तीन से 6 फीट ऊंचेऔर यह 3 से 6 फीट ऊंचे होते हैं,और 30 से 70 पाउंड वजन में होते हैं और इनका शरीर का आकार अंडा आकर जैसा होता है जो शुतुरमुर्ग के समान होता है

 15 सूर्य पक्षी के बारे में जानकारी:-

अंग्रेज़ी से अनुवाद किया गया कॉन्टेंट सनबर्ड्स और स्पाइडरहंटर्स पासरिन पक्षियों के परिवार नेक्टेरिनीडे को बनाते हैं भारत में अलग अलग प्रजातियों के पक्षी मिलते है इनमे से ज्यादातर पक्षी भारत के मूल निवासी है एवं कुछ विशेष मौसम में आते है

16 मोर के बारे में जानकारी:-

मोर एक सुंदर पक्षी है भारतीय उपमहाद्वीप दक्षिणी पूर्वी एशिया.और अफ्रीका महादीप के कांगो बेसिन में पाया जाता है, और मोर को पक्षियों का राजा भी कहा जाता है क्योंकि यह जब बारिश के दिनों में नाचता है अपने पंखों को फैला कर तो ऐसा लगता है कि मानव इसने हीरों से जड़ी शाही पोशाक पहन रखी है और वही नीलम मोर भारत का राष्ट्रीय पक्षी है नर और मादा को पहचानना बिल्कुल ही आसान है नरम और के सिर पर लगी कलगी आकार में बड़ी होती है जबकि माता मोर कलगी छोटी होती है

17 हूपू के बारे में जानकारी:- 

हूपू एक पक्षी है जो अफ़्रीका एशिया और युरोप में बहुत स्थानों पर पाया जाता है यह पक्षी अपने रंग सोच और सिर पर पंखों की मुकुट से पहचाना जा सकता है इस वजह से यह बिल्कुल ही आसानी से पहचाना जा सकता है यह पूरे भारत में पाया जाने वाला पक्षी हैं और यह पक्षी इजरायल का राष्ट्रपति है यह पक्षी आकाश में मीना जैसा होता है और इस तरह की आवाज सुरीली होती है और इसे किसानों का मित्र भी माना जाता है और इस शक्ति का जिक्र कुरान में भी किया गया है

18 बटेर पक्षी के बारे में जानकारी:-

यह पक्षी ज्यादातर.भूरे रंग और काले रंग में पाए जाते हैं बटेर या वर्तक भूमि पर रहने वाले जंगली पक्षी हैं। ये ज्यादा लम्बी दूरी तक नहीं उड़ सकते हैं और भूमि पर घोंसले बनाते हैं। इनके स्वादिष्ट माँस के कारण इनका शिकार किया जाता है। इस भक्ति की औसत आयु लगभग 4 से 5 वर्ष की होती है, और वही इस पक्ष की चौथ छोटी और मोटी होती है और इनकी चौथ काले रंग की होती हैं इन पक्षी की कुछ प्रजातियां एक ही जगह पर अपना पूरा जीवन बिता लेती है

19 शुतुरमुर्ग के बारे में जानकारी:-

 शुतुरमुर्ग दुनिया का सबसे बड़ा पक्षी है किसी शुतुरमुर्ग को अपनी तरफ कोई खतरा नजर आए तो वह बहुत ही तेज दौड़ता है लेकिन इनके मजबूत पर एक इंसान या फिर एक शिकारी की जान ले सकता है जब शुतुरमुर्ग को गुस्सा आता है तो वह अपने पैरों को एक हथियार के रूप में बना लेता है इस पक्षी के पैर में सिर्फ दो ही उंगलियां होती है इनके पंख करीब 2 मीटर के होते है और सर्दी के मौसम में शुतुरमुर्ग अकेला रहना पसंद करता है

20 तोते के बारे में जानकारी:-

ऑस्ट्रेलियन नाइट तोते को दुनिया का सबसे मायावी और रहस्यमई पक्षी माना गया है क्या आपको पता है भारत में तोते को पिंजरे में पालना गैरकानूनी है माना जाता है कि तोते सबसे बुद्धिमान प्रजाति के पक्षी हैं तोते को पढ़ना लिखना और बोलना भी सिखाया जा सकता है पूरी दुनिया में तोते की लगभग 400 प्रजातियां पाई जाती हैं, और इनमें कुछ प्रजातियां ऐसी होती हैं जो इंसानों की आवाज भी निकाल सकती हैं, तोता लगभग 399 जातियों के पक्षियों का एक जीववैज्ञानिक गण है। इसका वैज्ञानिक नाम सिटासिफोर्मीस है, जिसके अधीन तोते की इन अनुमानित 398 जातियों को 92 वंशों में संगठित करा जाता है।

Business Ideas (24) Education (6) Film information (10) full form (15) Loan offer (8) movies (7) अन्य खबर (20) ऑटोमोबाइल (9) शायरी (31)

5/5 - (2 votes)

नमस्कार, मैं Bhola Shankar saini और मैं Thehindionlinesite का Founder हूँ। मैं Digital Content Creator हूँ. और अब मैं YouTube समेत Blog पर भी आपकी मदद करने के लिए उपलब्ध हूँ।

Leave a Comment

Join Telegram